Moral Story Archive

योग्‍य राजा का योग्‍य फैसला- Children Stories With Morals

Children Stories With Morals- वीरसेन राजा के कोई संतान नहीं थी, इसलिए उन्‍होंने अपने राज्‍य से ही किसी योग्य युवक को अपना उतराधिकारी बनाने का निश्‍चय किया और अपने इस निर्णय के संदर्भ में सेनापति से विचार-विमर्श करते हुए पूछा- ”मेरा …

क्‍या हम भी ऐसे ही नहीं हैं?

Stories with Morals – गर्मी का महिना चल रहा था। एक मछुआरा रोज की तरह मछलियां पकड़ने गया, लेकिन आज का दिन उसके लिए कुछ ज्‍यादा अच्‍छा नहीं था। लगभग शाम हो गई थी और वापस घर लौटने की इच्‍छा …
| About Us | Contact Us | Privacy Policy | Terms and Conditions |